चीन्क्वे टेरेः पांच गांव

- चीन्क्वे टेरेः मोटेरोसो, वनेर्जा, कोर्निगालिया, मॅनारोला और रोएमॅगायर गांव

- चीन्क्वे टेरेः मोटेरोसो, वनेर्जा, कोर्निगालिया, मॅनारोला और रोएमॅगायर के प्राचीन गांवो मे छोटी- छोटी गालियां (कारूग्गी), मध्यकालीन दीवारे, सीढियां, स्तम्भ और बेल-टावर है।

- चीन्क्वे टेरेः मोटेरोसो, वनेर्जा, कोर्निगालिया, मॅनारोला और रोएमॅगायर गांव  वनेर्जा गांव।

रोएमॅगायर गांव

ला स्पेजिया से जाते हुए पहला गांव रोएमॅगायर पडता है। इसके अनुप्रस्थ विकास के साथ रोएमॅगायर यहां के निवासियो के विशिष्ट रंग की पत्थर की छत वाले झुरमुट घरो से होकर गुजरने वाली सीढियों और सोपान गांव के आर पार है।

मुख्य सडक के नीचे 'राइवस मेयर' नदी बहती है जिसके कारण इस गांव का नाम रोएमॅगायर है। रोएमॅगायर मे प्रसिध्द समुद्र के ऊपर चट्टान पर खुदा हुआ प्रसिध्द पॅदल मार्ग वाया डेल 6 अमोर (लवर्स पथ) है। मॅनारोला को जाने वाली इस हसीन गली से होकर जाना एक विस्मयकारी अनुभव हैः अत्यंत आश्चर्यजनक द्रष्यो की ओर आपकी द्रष्टी जाती है तो आपको समुद्रतट पर टकराती लहरो की अवाज सुनाई देती है और नमक की गंध आती है।

मॅनारोला गांव

मॅनारोला चीन्क्वे टेरे,  5 टेरे काली चट्टान की नोक बिंदु पर स्थित हैः इसका छोटा बंदरगाह दो पाषाण- खंडों ध्दारा सुरक्षित है । गांव के पीछे आप अंगूर वाटिकाएं ऑर सूखी दीवारें बरबस आपका ध्यान आकर्षित करती है; समुद्र की ऑर जाते हुए आप सुहानी पगडंडियो ऑर अविस्मरणीय मनोहर द्रश्य देखेंगे। 

सुप्रसिध्द पगडंडी वाया डेल 'अमोरे' है जोकि मॅनारोला को रोएमॅगायर को जोडता है । पहाडी पर खोदे गए इस छोटे मार्ग पर जाते हुए नीचे समुद्र में देखने का मतलब है पहाडियो की हरियाली के पीछे नीला समुद्र देखना।
मेनारोला कस्वे के सामने 'कोलोरा' पहाडी पर बनी चमकीली कुटिया भी देखने लायक है ( 8 दिसंबर से 20 जनवरी प्रतिवर्ष ) 

कोनिंगलिया का प्राचीन गांव

कोनिंगलिया चीन्क्वे टेरे यहां के अन्य गांवों से पूरी अलग है क्योंकि  यह समुद्र से दूर 100 मीटर ऊंची  चोटी पर स्थित है
आपको इस कस्बे मे जाने के लिए 'लार्डरीना'  सीढी चढनी पडती है जोकि 380 कदमो से भी अधिक 33 सीढियों से बनी हुई है तथा रेल स्टेशन को कस्बे से जोडने वाली सड़क  जोकि समुद्र तल पर है, से होकर जाना पडता 
है, यह गांव फिएस्की जाने वाली मुख्य सड़क के साथ विकसित है तथा यहाँ के मकानों के एक ओर समुद्र है तो दूसरी ओर सड़क है ।

वर्नेजा गांव

यह गांव वर्ष 1000 मे स्थापित हुआ था। वर्नेजा एक ऐसा कस्बा है जो इसके सुविधाजनक और प्राक्रतिक् बंदरगाह की वजह से और प्राचीन समय से ज्ञात समुद्री रीति की वजह चीन्क्वे टेरे में विशिष्ट मछुआरों के गांव के रूप को अभी भी संजोए हुए हैं । वर्नेजा चीन्क्वे टेरे का एकमात्र प्राक्रतिक् बंदरगाह है और यह नगर वनेजोला (अब ढक गया है) समुद्र से वर्नेजा को छुपाने वाली चट्टानों के साथ बसा है ।  एक दम सीधे और  संकरे रास्ते मुख्य सड़क की ओर ले जाती हैं जोकि एक छोटे चबुतरे पर बंदरगाह के निकट जाता है ।

महत्वपूणॆ वास्तुशास्त्रीय तत्वों जॅसे छतदार मार्गों, तोरणमार्गों और पोर्टलों की मौजूदगी वर्नेजा निवासियों के अतीत में रहने के आर्थिक और सामाजिक स्तर को दर्शाता है जोकि  चिन्क्वे टेरे मे अन्य केन्द्रों से ऊंचा था । वास्तव मे, वर्नेजा आज भी शिलाखंड पर बसा एक आदर्श और भव्य कस्बा लगता है ।

मोंटेरोसो गांव

चीन्क्वे टेरे का पश्चिमी गांव सैन क्रिस्टोफोरो पहाडी द्वारा दो भागों में विभाजित है जोकि केन्द्र को आधुनिक आवासीय रिहायशी रूप से बांटता है, यह आवासीय रिहायश लंबे समुद्रतट तक फैली है । मोंटेरोसो का ऎतिहासिक उद्भव 643 ईo पूर्व में हुआ जब लोग उत्तर से आने वाले बर्बरपूर्ण हमलों से बचने के लिए समुद्र के नजदीक पहाडियों पर रहने के लिए जाते थे।

प्राचीन मोंटेरोसो अपने हाउस-टावसे के साथ अतुण है जहां संकरी गलियां एक ओर से दूसरी ओर तक गुजरती हैं (जिन्हें 'कारूग्गी' कहते हैं) । समुद्री हमलों से बचने के लिए अनेक रक्षात्मक कार्य बनाए गए थे । इस व्यवस्था के भाग वे किले हैं जो अपने त्रिआयामी स्तुपों के साथ समुद्र को निहार रहे हैं, कस्बे की दीवारों के कुछ भाग, मध्यकालीन टाव, सॅन गियोवानी चर्च का घंटा घर और ओरोरा टॉवर जोकि  16वीं सदी के 13 टावरों में से एक है। मोंटेरोसो के कस्बे को घेरे हुए हैं । आधुनिक आवासीय रिहायश फॅगिना की खाडी़ में समुद्र के साथ विकसित हैं।

मोंटेरोसो कस्बे का हरित वातावरण इस तरह है जैसे कस्बे को लिपेटा हुआ है और इसके तट जो कि  चीन्क्वे टेरे के सबसे बडे़ तट हैं और इसके शिलाखंड और समुद्र का स्वच्छ जल ईस्टर्न लिंगूरियन रिवेरा, इटली का सबसे 
छोटा कस्बा बनाते हैं ।

अतीत में मोंटेरोसो के पास महत्वपूर्ण मत्सय पालन बेडा़ था, जिसने इस कस्बे को मछलियों के लिए प्रसिध्द बनाया, कुल मिलाकर लकडी के केगों ("स्कैबेसियो") में वाइनेगर के साथ नमक मिश्रित मछलियों और फ्राइ की ग मछलियों को सुरक्षित किया जाता है ।

Hotel Clelia Logis International
Tel +39 0187 82626
Fax +39 0187 816234
E-mail:
info@clelia.it
Skype: hotelclelia